जच्चा-बच्चा की मौत के बाद भी नही जागा स्वास्थ्य महकमा नही हुई अवैध नर्सिंग होम के खिलाफ कार्यवाही

जिसके चलते उक्त केंद्र पर अभी भी मरीज किए जा रहे हैं भर्ती।

रिपोर्टर–मुमताज अहमद

आलापुर/अम्बेडकरनगर- अवैध नर्सिंग होम में जच्चा-बच्चा की मौत के बाद ही स्वास्थ्य महकमा अभी तक अवैध नर्सिंग होम तक पहुंचने की जहमत नहीं उठा सका है। जिसके चलते उक्त केंद्र पर अभी भी मरीज भर्ती किए जा रहे हैं जिसके चलते लोगों की जान का खतरा बना हुआ है। बता दें कि बीते 2 नवंबर को जहांगीरगंज थाना क्षेत्र के सुतहरपारा गांव निवासी पवन कुमार की पत्नी रेखा देवी (22वर्ष) को प्रसव पीड़ा होने पर परिजन उसे लेकर थाना क्षेत्र के नरियांव पेट्रोलपंप के बगल स्थित रामरती के नर्सिंग होम पर गए जहां रामरती एवं उसके कर्मियों की लापरवाही से जच्चा बच्चा दोनों की मौत हो गई। मामले में परिजनों की तहरीर पर पुलिस ने मामला दर्ज कर अपने कर्तव्यों की इतिश्री कर ली। हीलाहवाली का नतीजा है कि अभी तक पुलिसिया कार्रवाई के नाम पर नतीजा सिफर है। जच्चा-बच्चा मौत के बाद अभी तक कोई भी स्वास्थ्य महकमे के जिम्मेदार अधिकारी मौके पर नहीं पहुंच सके है। जिसके चलते अभी भी उपकेंद्र पर मरीज भर्ती कर उनका इलाज किया जा रहा है।बताते चलें कि रामरती स्वास्थ्य विभाग की सेवानिवृत एएनएम है,जो अवैध ढंग से जहांगीरगंज – बसखारी मुख्य मार्ग पर पेट्रोल पंप के बगल अपने आवास पर अवैध ढंग से नर्सिंग होम संचालन करती हैं। इतना ही नहीं इस घटनाक्रम के बावजूद अभी भी मरीजों का इलाज किया जाता है।आए दिन अनहोनी घटना होने से लोगों के लिए परेशानी बनी रहती है। फिलहाल अभी तक पुलिसिया कार्रवाई शिथिल है और स्वास्थ्य महकमे का कोई जिम्मेदार अधिकारी मौके पर नहीं पहुंच सका है। जिससे नामजद आरोपी रामरती अभी भी स्वच्छंद विचरण कर कानून व्यवस्था को खुली चुनौती दे रही है।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *