अमरनाथ हमले का बदला पूरा, इस्माइल-माविया के बाद फुरकान भी ढेर

दक्षिण कश्मीर में सेना और आतंकियों के बीच मुठेभड़ में तीन आतंकी मारे गए हैं. इस ऑपरेशन में सेना को बड़ी कामयाबी हासिल हुई है. सेना ने लश्कर के नए कमांडर फुरकान को मार गिराया है. फुरकान ने हाल ही में अबू इस्माइल की जगह ली थी. इस ऑपरेशन में एक आतंकी को जिंदा भी पकड़ा गया है.
आपको बता दें कि दक्षिण कश्मीर में बहादुरगढ़-बोनीगम में मुठभेड़ हुई थी. ये तीनों आतंकी सोमवार को रोड ओपनिंग पार्टी पर हमला करते हुए श्रीनगर-जम्मू हाइवे पर ट्रैक किए गए थे. आतंकी एक घर में छुप गए थे, जिसके बाद सेना ने उस घर को ही उड़ा दिया था. जम्मू-कश्मीर पुलिस के चीफ SC वैद्य ने ट्वीट कर कहा, ”हमने तीसरे आतंकी की भी बॉडी को रिकवर कर लिया है, एक आतंकी को जिंदा पकड़ा गया है.”
वैद्य ने ट्वीट कर कहा कि ”पहले अबू इस्माइल और अब ये तीन अबू माविया, फुरकान और यावर ग्रुप के साथ ही अमरनाथ यात्रियों पर हमला करने वाले सभी आतंकी खत्म हो गए हैं.”

बता दें कि जम्मू-कश्मीर के नौगाम में 14 सितंबर को लश्कर कमांडर अबु इस्माइल अपने साथी अबु कासिम समेत सुरक्षाबलों के साथ हुए मुठभेड़ में मारा गिराया था.

वो रात जब आतंकियों ने श्रद्धालुओं को बनाया निशाना
जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग के बटेंगू इलाके में 10 जुलाई, 2017 की रात करीब 8.20 श्रद्धालुओं से भरी बस पर बाइक से आए आतंकियों ने अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी थी. इस हमले में सात श्रद्धालुओं की मौत हो गई थी और कई घायल हुए थे. इस आतंकी हमले की जिम्मेदारी तभी लश्कर-ए-तैयबा ने ली थी.
ऐसा हुआ था अमरनाथ यात्रियों की बस पर आतंकी हमला
श्रीनगर से जम्मू की ओर जा रही बस जैसे ही अनंतनाग में बटेंगू के पास पहुंची, बाइक से आए आतंकियों ने बस पर अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी. बस के चालक ने रफ्तार तेज कर बस को अगले चौक तक पहुंचाया. आतंकी अंधाधुंध फायरिंग के बाद भाग निकले थे.
एक गली से भाग निकले थे आतंकी
सबसे पहले पुलिस की गाड़ी पर हमला हुआ था, तभी बस बीच में आ गई और आतंकी बस पर फायरिंग करने लगे. हमले के दौरान आर्मी और पुलिस ने भी आतंकियों पर फायरिंग की थी. हमला करने के बाद हमलावर एक गली से भाग निकले थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *