उत्तर प्रदेश सरकार विभागों के विलय पर लगा सकती है मुहर 94 से घटकर महज़ इतने हो जाएंगे …

लखनऊ(ब्यूरो)–उत्तर प्रदेश सरकार विभागों के विलय की योजना पर अपना रुख साफ़ कर चुकी है. आपको बता दे कि उत्तर प्रदेश सरकार के पास पहले कुल 94 विभाग की जिम्मेदारी थी. इस विलय पर मुहर लगने के बाद यह 94 से घटकर केवल 37 हो जाएगी. आपको बता दे कि इन विभागों के विलय होने से यह बात साफ़ हो चुकी है जल्दी ही मंत्री मंडल में फेर बदल होगा. सूत्रों के मुताबिक़ कहा जा रहा है कि मंत्रिमंडल से नॉन परफार्मिंग मंत्रियों को बहार निकला जा सकता है. मत्रीमंडल के फेर बदल कि बात जब सभी मंत्रियो के कानो तक पहुंची तो सभी के नींद मानो उड़ गए है. कयास कगाये जा रहे है कि योगी सरकार अपने मंत्रिमंडल में कुछ युवाओं को शामिल कर सकते है. संभावना यह लग रही है पहली कि योगी कि पहली पसंद वह युवा मंत्री होंगे जो पहले से आरएसएस से जुड़े हुए हैं. हालांकि विभागों के विलय की औपचारिक घोषणा अभी होना बाकी है.

आपको बता दे कि इस नए मसौदे में निर्वाचन विभाग, न्याय विभाग, खाद्य एवं रसद, संसदीय कार्य, विधायी, लोकसेवा प्रबंधन, मुख्यमंत्री कार्यालय, उपभोक्ता संरक्षण, आईटी एवं इलेक्ट्रानिक्स जैसे विभागों को स्वतंत्र रखा गया है. 94 विभागों को घटाकर 37 तक सीमित करने पर अंतिम फैसला मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को करना है.

देखे प्रस्तावित लिस्ट:


 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *